पैन कार्ड क्या होता है PAN CARD KYA HOTA HAI

Rate this post

 PAN CARD KYA HOTA HAI 

पैन कार्ड क्या होता है 

PAN CARD एक प्रकार का पहचान पत्र होता है लेकिन ये एक प्रकार से आपकी आर्थिक पहचान बताता है क्योंकि जब भी आप कहीं भी ज्यादा पैसों का लेन देन करना चाहते हैं तो आपसे आपका PAN CARD मांगा जाता है। PAN CARD नंबर 10 अंग्रेजी के अक्षर और अंकों से मिलकर बना होता है। PAN कार्ड में आपका नाम , आपके पिता का नाम , आपकी जन्म तिथि , आपके हस्ताक्षर और साथ में जिस दिन ये जारी किया गया वह तारीख भी रहती है। यदि आप चाहें तो अपने पिता और माता का नाम भी प्रिंट कर सकते हैं। यदि कोई व्यक्ति पढ़ा लिखा न हो मतलब जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर न कर सकता हो वह अपने अंगूठे के निशान से भी अपना पैन कार्ड बनवा सकता है। यदि आप बैंक में पैन कार्ड लगाना चाहते हैं तो आपके पैन कार्ड में हस्ताक्षर होना आवश्यक है यदि नहीं है तो उसे अपडेट करा लें। 
यदि किसी कारणवश आपके पैन कार्ड में हस्ताक्षर नहीं आते हैं तो आप इसे अपडेट भी करा सकते हैं। फिर आपके नए पैन कार्ड में साइन भी आ जायेंगे। 

PAN CARD KYA HOTA HAI

PAN कार्ड में 10 अंकों शब्दों या अक्षरांकों का क्या मतलब होता है 

पैन कार्ड के नंबर जैसे कि ABIXX8091J
इसमें सबसे पहले के तीन अंक अंग्रेजी के अक्षरों को दर्शाते हैं। 
इसके बाद का चौथा अंक इस प्रकार को दर्शाता है 
“P”   किसी व्यक्ति के लिए 

“C”   किसी कंपनी के लिए 

“H”  हिन्दू अविभाज्य परिवार 

“A” ASSOCIATIONS ऑफ़ पर्सन्स 

“B”  बॉडी ऑफ़ इंडिविजुअल 

“G”  सरकारी एजेंसी 

“J”  आर्टिफीसियल JURIDICAL पर्सन 

“L”  LOCAL अथॉरिटी 

“F”  फर्म या LLP लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप 

“T”  ट्रस्ट 
और पांचवा अक्षर आपके उपनाम के पहले अक्षर को दर्शाता है। 
इसके आगे के चार अंक किसी अंकों के क्रम को दर्शाते हैं। 
आखिरी शब्द एक चेक अक्षर होता है। 
यदि आप किसी धार्मिक संस्था का पैन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो उसके लिए आपके संस्था का रजिस्ट्रेशन प्रमाण पात्र लगता है क्यूंकि जन्म दिवस के स्थान पर संस्था का रजिस्ट्रेशन दिनांक डाला जाता है और इसको अपलोड भी करना पड़ता है। इसमें आपको अपनी संस्था की मोहर भी लगानी होती है इसीलिए आप पहले से अपनी मोहर बनवा कर रख लें। जब भी आप किसी धार्मिक संस्था का पैन कार्ड बनाते हैं तो आप फर्म को सेलेक्ट करें। 
अपने पैन कार्ड को आधार से लिंक करने के लिए यहां से आप पूरी जानकारी ले सकते हैं 
पैन कार्ड क्या होता है    PAN CARD KYA HOTA HAI

पैन कार्ड का फुल फॉर्म 

PAN CARD का फुल फॉर्म PERMANENT ACCOUNT NUMBER होता है।  PAN CARD को हिंदी में स्थाई खाता संख्या कहा जाता है।   

पैन कार्ड कब बनता है 

किसी भी व्यक्ति का PAN CARD तब ही बन सकता है जब वह 18 वर्ष  का हो जाए। यदि किसी 18 वर्ष से कम उम्र के व्यक्ति को पैन कार्ड बनवाना है तो उसके माता या पिता के नाम पर बनाया जा सकता है।

पैन कार्ड कौन जारी करता है 

PAN कार्ड को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट मतलब आयकर विभाग द्वारा जारी किया जाता है। 

पैन कार्ड बनने में कितना समय लगता है 

पैन कार्ड वैसे तो बनने में 10 से 15 दिनों का वक़्त लगता है लेकिन यदि आप इसे जल्दी चाहते हैं तो आप इसे e-KYC के जरिये तुरंत ही बना सकते हैं हां लेकिन इसमें आपको हार्ड वाला पैन कार्ड नहीं मिलता है पर आप ePAN को भी वैसे ही इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे फिजिकल पैन कार्ड को किया जाता है। 

पैन  कार्ड के फायदे 

वैसे तो पैन कार्ड सभी लोगों के लिए एक आवश्यक डॉक्यूमेंट है और इससे बहुत से फायदे होते हैं। 
किसी भी बैंक में खाता खुलवाने के लिए पैन कार्ड एक जरुरी डॉक्यूमेंट है। 
यदि आप किसी भी बैंक से लोन लेना चाहते हैं तब भी आपको पैन कार्ड की आवश्यकता होगी। 
आपके पास जितने भी बैंक अकाउंट होंगे सभी में आपका पैन कार्ड लिंक होगा और इसी तरह से आपकी आय के बारे में आयकर विभाग को पता लगता रहता है।

पैन कार्ड के नुकसान 

यदि आप अपने पैन कार्ड को अपने आधार कार्ड से 31 मार्च 2021 तक लिंक नहीं करते हैं तो आपको 10000 रूपए का जुर्माना देना पड़ सकता है। 
यदि किसी व्यक्ति के पास एक से अधिक पैन कार्ड पाए जाते हैं तो उसे जुर्माना लग सकता है। 

पैन कार्ड क्यों जरुरी है 

किसी भी व्यक्ति या किसी भी कम्पनी को उसके वित्तीय स्थिति के लिए पैन कार्ड की आवश्यकता होती है ।

पैन कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक कागजात 

पैन कार्ड बनवाने के लिए सबसे जरुरी डॉक्यूमेंट है आपका आधार कार्ड यदि ये आपके मोबाइल नंबर से लिंक हो तो और भी कम समय में आपका पैन कार्ड बन सकता है। 
एक पासपोर्ट साइज फोटो और आपके हस्ताक्षर 
एक आपके पते का प्रमाण यदि आपके आधार कार्ड में सही पता न डला हो या आप उस पते को न डलवाना चाहें तो। 

क्या हम अपना पैन कार्ड बंद कर सकते हैं 

यदि आपके पास एक पैन कार्ड है तो आप उसे बंद नहीं करा सकते लेकिन यदि आपके पास एक से अधिक पैन कार्ड है वैसे तो बहुत कम ही ऐसा हो सकता है कि किसी के पास दो पैन कार्ड हों लेकिन फिर भी किसी के पास हो तो वह अपना एक पैन कार्ड कैंसल करा सकते हैं।

पैन कार्ड के प्रकार 

पैन कार्ड वैसे तो दो प्रकार के होते हैं हालांकि होते दोनो एक ही होते हैं बस उनका फॉर्मेट अलग होता है
एक तो डिजिटल पैन कार्ड जिसमें आपको तुरंत ही ऑनलाइन आधार के वाई सी के द्वारा मिल जाता है और दूसरा फिजिकल पैन कार्ड जो आपको डाक विभाग द्वारा आपके घर पर डिलीवर किया जाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.